21 C
Ranchi
Saturday, May 8, 2021
Home झारखंड बोकारो बोकारो में सोशल डिस्टेंसिंग की सरेआम धड़ल्ले से उड़ रही धज्जियां

बोकारो में सोशल डिस्टेंसिंग की सरेआम धड़ल्ले से उड़ रही धज्जियां

प्रशासन के आंख में धूल झोंककर खुल रही हैं प्रतिबंधित दुकानें

बोकारो : वैश्विक महामारी कोरोना के पहले चरण में आम-आवाम एवं जिला प्रशासन ने अपनी सूझ- बूझ का एक अच्छा परिचय दिया था। जनता कर्फ्यू से लेकर लॉकडॉउन तक में भारत सरकार एवं झारखंड सरकार के द्वारा निर्धारित दिशा- निर्देशों का शत- प्रतिशत पालन लोगों ने किया। जिसके चलते उस समय इस महामारी पर विजय प्राप्त करने में हमारे देश ने सफलता हासील की थी। परंतु कोविड 19 के दूसरे चरण में बोकारो में सरेआम सोशल डिस्टेंसिंग की धड़ल्ले से धज्जियां उड़ाई जा रही है और जिला प्रशासन की आंखों में धूल झोंककर प्रतिबंधित दुकानों का भी संचालन किया जा रहा है। जिसका खामियाजा आम जनता को भुगतना पड़ रहा है।

इस महामारी के चपेट में जो भी आ रहे हैं, अगर उनमें से जिस किसी को भी ऑक्सीजन लेने की नौबत आ जा रही है, उनमें से अधिकांश मरीज संसार से निकलने की तैयारी में आ जाते हैं। मैं यह नहीं कह रहा हूँ कि सभी के साथ ऐसा हो जा रहा है। मैं सिर्फ यह कह रहा हूँ कि अधिकांश के साथ ऐसा हो जा रहा है। हमारे वारियर जैसे चिकित्सक पूरी ईमानदारी के साथ इससे लड़ रहे हैं। मरीजो को बचाने की पूरी कोशिश हो रही है। लेकिन कोरोना का दूसरा चरण बेहद खतरनाक साबित हो रहा है। पहले चरण की तुलना में मरीजों की संख्या और मरनेवालों की संख्या, दोनों हीं में भारी इजाफा हुआ है। आलम यह है कि यहां जितने भी अस्पताल अवस्थित हैं उनमें से सभी के यहां हर समय एक भी बेड बमुश्किल हीं मिल रहा है।इसका सीधा- सीधा अर्थ है कि हम पहले चरण की तुलना में ज्यादा लापरवाह हो गए हैं। तभी आंकड़ा आसमान छू रहा है। राज्य एवम केंद्र सरकार द्वारा निर्धारित लॉकडॉउन और दिशा- निर्देशों का पालन शत- प्रतिशत नहीं हो रहा है।

बता दें कि अनुमंडलीय शहर चास सहित बोकारो  जिला मुख्यालय के अंदर कोऑपरेटिव कालोनी, बारी कोऑपरेटिव कालोनी, सिटी सेंटर, सेक्टर 1, सेक्टर 2, सेक्टर3, सेक्टर 5, सेक्टर 6, सेक्टर 8, सेक्टर 9, सेक्टर11 तथा सेक्टर 12 स्थित शॉपिंग सेंटरों में खरीदारी के लिए निर्धारित समय सीमा में खुले दुकानों में सोशल डिस्टेंसिंग की धड़ल्ले से धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। खरीदारी के आपा- धापी में सारे नियमों एवम कानूनों को ताक पर रखकर भारी भीड़ इकठ्ठी हो जा रही हैं। चाहे वह दवा दुकान हो या कोई अन्य , कमोबेस सबका हाल एक हीं है। सब्जी मंडियों की हालत यह है कि एक पर एक लोग चढ़े रहते हैं। प्रशासन के लोग दुकानों को बंद कराने एवं गाइडलाइन का पालन करवाने गाड़ियों का सायरन बजाते आते हैं तबतक थोड़ी बहुत सतर्कता का ढोंग कर ली जाती है और फिर उनके जाते हीं वहीं पुरानी हाल में लोग आ जाते हैं। कहने का तात्पर्य यह है कि कितने समय तक पुलिस एवम प्रशासन के लोग हमें सुरक्षित करने में लगे रहेंगे ? हमें सुधरना होगा।अगर कोरोना महामारी के दूसरे चरण पर विजय प्राप्त करना है तो लोगों को अपनी सोंच बदलनी होगी और सरकारी दिशा- निर्देशों का शत -प्रतिशत पालन करना होगा। अन्यथा जो आंकड़े उभरकर सामने आ रहे हैं, उन आंकड़ों में कमी होना मुश्किल लग रहा है। 

सबसे लोकप्रिय

प्रतीकों की अभिव्यक्ति कोहबर कला

लोक में लोकाचार का महत्त्वपूर्ण स्थान होता है। लोकाचार किसी भी पर्व ,पूजा ,संस्कार को जीवंत व रोचक बनाते है। विशेषकर विवाह...

नवम्बर में बोकारो इस्पात संयंत्र का शानदार प्रदर्शन उत्पादन के बने कई कीर्तिमान

बोकारो ः कोविड-19 की चुनौतियों से उबरते हुए बोकारो इस्पात संयंत्र लगातार बेहतर प्रदर्शन कर रहा है, जिसका सिलसिला नवम्बर माह में भी जारी रहा। प्लांट...

बोकारो में सोशल डिस्टेंसिंग की सरेआम धड़ल्ले से उड़ रही धज्जियां

प्रशासन के आंख में धूल झोंककर खुल रही हैं प्रतिबंधित दुकानें बोकारो : वैश्विक महामारी कोरोना के पहले चरण...

बीजीएच में जल्द बनेगा गैसियस ऑक्सीजन की सुविधा से युक्त 500 बेड का अस्पताल

बोकारो: भारत सरकार के दिशा-निर्देश पर सेल के पांचों एकीकृत स्टील प्लांट में कोविड उपचार के लिए गैसियस ऑक्सीजन (जीओएक्स) की सुविधा से...

मणिपुर की लांगपी कला

लांगपी हैम के नाम से जाने जानी वाली कला (काली मिट्टी के बर्तन बनाने की कला) नागा जनजातियों द्वारा शुरू की गई।...

शाओमी के किफायती 5जी स्मार्टफोन से बाजार में मचेगी खलबली, सैमसंग, एलजी को देगी टक्कर

नई दिल्ली (एजेंसी)। चाइनीज ब्रैंड शाओमी अपने 5जी किफायती स्मार्टफोन से बाजार में खलबली मचाने वाला है। शाओमी, सैमसंग और एलजी जैसी...

हाल का

मणिपुर की लांगपी कला

लांगपी हैम के नाम से जाने जानी वाली कला (काली मिट्टी के बर्तन बनाने की कला) नागा जनजातियों द्वारा शुरू की गई।...

भयमुक्त रहकर कोविड 19 पर विजय प्राप्त किया जा सकता है

वैश्विक महामारी कोविड 19 अब तक से पहले के महामारियों से कुछ भिन्न है। हम प्लेग की हीं बात करते हैं, जिसने...

प्रतीकों की अभिव्यक्ति कोहबर कला

लोक में लोकाचार का महत्त्वपूर्ण स्थान होता है। लोकाचार किसी भी पर्व ,पूजा ,संस्कार को जीवंत व रोचक बनाते है। विशेषकर विवाह...