28 C
Ranchi
Sunday, October 25, 2020
Home झारखंड अन्य झारखंड उच्च न्यायालय ने करीब 18 हजार शिक्षकों की नियुक्ति प्रक्रिया को...

झारखंड उच्च न्यायालय ने करीब 18 हजार शिक्षकों की नियुक्ति प्रक्रिया को रद्द किया

नियोजन नीति को चुनौती देने वाली याचिका पर बड़ा फैसला

रवि सिन्हा, रांची। झारखंड सरकार द्वारा बनाए और  लागू किए गए नियोजन नीति को चुनौती देने वाली याचिका पर झारखंड उच्च न्यायालय की पूर्ण पीठ ने सोमवार को महत्वपूर्ण फैसला सुनाते हुए करीब 18 हजार  शिक्षकों की नियुक्ति प्रक्रिया को रद्द कर दिया है।

- Advertisement -

उच्च न्यायालय ने कुछ दिन पूर्व ही इस मामले में अंतिम सुनवाई करते हुए फैसला सुरक्षित रख लिया था । सुनवाई के दौरान राज्य सरकार ने राज्य की नियोजन नीति को सही ठहराते हुए अदालत में कहा गया था कि कि झारखंड की कई परिस्थितियों को ध्यान में रखकर ही यह नीति बनाई गई है। प्रार्थी सोनी कुमारी व अन्य ने राज्य की स्थानीय नीति को लेकर झारखंड उच्च न्यायालय के समक्ष याचिका दायर कर नियोजन नीति को चुनौती दी गयी थी। पूर्ण पीठ में  न्यायमूर्ति हरीश चंद्र मिश्रा, न्यायमूर्ति एस०चंद्रशेखर और न्यायमूर्ति दीपक रोशन शामिल हैं।  

बताया गया है कि पूर्ण पीठ ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश का हवाला देते हुए नियुक्ति प्रक्रिया को संविधान के अनुरूप नहीं मानते हुए खारिज कर दिया है। अदालत में सोनी कुमारी ने झारखंड सरकार की नियोजन नीति में 13 जिले को आरक्षित किए जाने को हाई कोर्ट में चुनौती दी थी।  पूर्व में एकल पीठ ने मामले को डबल बेंच में भेजा था और डबल बेंच ने मामले को पूर्ण पीठ में स्थानांतरित किया था।  पीठ ने सुनवाई कर अपना फैसला सुरक्षित रख लिया गया था। वर्ष 2016 में 18584 शिक्षक की नियुक्ति के लिए विज्ञापन निकाला गया था। उसी को चुनौती दी गई थी।  

अदालत में सोनी कुमारी की ओर से राज्य के अनुसूचित 13 जिलों के सभी पद स्थानीय लोगों के लिए आरक्षित करने के खिलाफ हाई कोर्ट में याचिका दाखिल की गई थी। पूर्व में सभी पक्षों को सुनने के बाद अदालत ने अपना फैसला सुरक्षित रखा था। सुनवाई के दौरान पूर्ण पीठ के सभी जज इस बात पर एकमत हुए कि विज्ञापन संख्या 21 के कुछ खंड को अनुसूचित जिले के लिए नए सिरे से विज्ञापन प्रकाशित करने का निर्देश दिया। राज्‍य के अनुसूचित जिलों में पहले से की गई नियुक्तियां भी रद्द कर दी गई हैं। इसके अलावा राज्‍यपाल के द्वारा जारी अधिसूचना को भी खारिज कर दिया गया। गैर अनुसूचित जिलों में नियुक्ति होती रहेगी।

- Advertisment -

सबसे लोकप्रिय

पत्नी ने प्रेमी के संग मिल कर की थी पति की हत्या, पत्नी व प्रेमी के अलावे एक अन्य गिरफ्तार

कोडरमा। जिले के चंदवारा थाना क्षेत्र अंतर्गत दो दिन पूर्व  रितेश सोनी नामक व्यक्ति की मौत मामले का खुलासा हो गया है।...

जापान में डिलीवरी रोबोट जल्द नज़र आएंगे

रोबोट आपके दरवाज़े तक करेंगे डिलीवर टोक्यो (एजेंसी)। जापान में सड़कों पर डिलीवरी रोबोट जल्द नज़र आने वाले...

बच्चों, किशोरों में मोबाइल के कारण बढ़ रही थकान

कोरोना महामारी के खतरे को देखते हुए आजकल ऑललाइन क्लास का दौर चल रहा है पर इस दौरान मोबाइल का अघिक उपयोग...

232 नये कोरोना संक्रमित मरीज मिले,संख्या बढ़कर 5342 हुई

रांची। झारखंड में कोरोना संक्रमित नये मरीजों के मिलने का सिलसिला जारी है। शनिवार को राज्य के विभिन्न जिलों में 232 नये...

बारिश से कई इलाकों में फ्लैश फ्लड का खतरा मंडराया

झमाझम बारिश से अच्छी पैदावार की भी आस जगी रांची। झारखंड के के अनेक हिस्सों में बारिश का सिलसिला...

चीन लगाएगा डॉ कोटनीस की प्रतिमा

कांस्य प्रतिमा का अगले माह करेगा अनावरण बीजिंग (एजेंसी)। उत्तरी चीन में एक चिकित्सा स्कूल के बाहर प्रसिद्ध...

हाल का