23 C
Ranchi
Wednesday, January 20, 2021
Home बड़ी ख़बर अंतरराष्ट्रीय भारत के वैश्विक शक्ति बनने में अमेरिका मददगार की भूमिका निभाना चाहता...

भारत के वैश्विक शक्ति बनने में अमेरिका मददगार की भूमिका निभाना चाहता है अमेरिका : बाइगुन

वाशिंगटन (एजेंसी)। अमेरिका उप विदेश मंत्री स्टीफन बाइगुन ने कहा अमेरिका भारत को विश्व शक्ति बनने में मदद करने का इच्छुक है । उन्होंने संकेत दिया कि डोनाल्ड ट्रम्प प्रशासन बेहतरीन रक्षा क्षमता के साथ भारत का समर्थन करने को उत्सुक है। अमेरिका के उप विदेश मंत्री स्टीफन बाइगुन ने यह बात अमेरिक-भारत रणनीतिक और साझेदारी मंच (यूएसआईएसपीएफ) द्वारा आयोजित तीसरे भारत-अमेरिका नेतृत्व सम्मेलन में कही, जिसे डिजिटल माध्यम से आयोजित किया गया था।

- Advertisement -

उन्होंने कहा कि दुनिया के सबसे पुराने और सबसे विशाल लोकतंत्र के बीच साझेदारी गत दो दशक में लगतार मजबूत हुई है और इसके आगे भी जारी रहने की उम्मीद है। भारत में अमेरिका के पूर्व राजदूत रिचर्ड वर्मा के एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा हम भारत को सुरक्षा तंत्र में योगदान करने के लिए विश्व स्तरीय ताकत बनने में मदद करने को इच्छुक हैं। मैं मानता हं कि रक्षा सहयोग इसमें महत्वपूर्ण है। बता दें कि वर्मा ने पूछा था कि अमेरिका रक्षा सहयोग, निर्यात नियंत्रण और प्रौद्योगिकी हस्तांतरण के संबंध में और क्या कर सकता है।

सुरक्षा तंत्र मुहैया कराने वाले सुरक्षा चिंताओं का सामना सामान लक्ष्य के साथ विभिन्न देशों के साथ साझेदारी कर करते हैं। उप विदेश मंत्री ने कहा कि प्रतिरोधात्मक रुझानों में से एक, भारत की रक्षा क्षेत्र में आत्मनिर्भर होने की इच्छा है और उसे मैं समझता हूं। कोई भी देश पूरी तरह से दूसरे देश पर निर्भर नहीं रहना चाहता है। यहां तक कि भारत और अमेरिका की करीबी साझेदारी में भी, अभी समय है जिसका परीक्षण क्षेत्र में होने वाली घटनाओं या देशों से हो जाएगा।

उन्होंने कहा मैं समझता हूं, लेकिन मैं मानता हूं कि भारत को बेहतरीन रक्षा क्षमता देने के मामले में अलग नहीं किया जा सकता है, मैं मानता हूं कि भारत को आने वाले हफ्तों या महीनों में अमेरिका में उन खास क्षेत्र में बहुत ही इच्छुक और सृजनात्मक सोच वाला साझेदार मिलने जा रहा है। उन्होंने कहा कि गत दो दशक में चार अमेरिकी राष्ट्रपतियों और तीन भारतीय प्रधानमंत्रियों ने राजनीतिक विचार से इतर भारत-अमेरिका साझेदारी में निवेश किया है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक ने अपने उत्तराधिकारी को बेहतर रिश्ते की विरासत सौंपी।

- Advertisment -

सबसे लोकप्रिय

अमर सिंह का निधन, लंबे समय से थे बीमार

नई दिल्ली (एजेंसी)। लंबे समय से बीमारी से जूझ रहे समाजवादी पार्टी (एसपी) के पूर्व नेता अमर सिंह का निधन हो गया...

फ्रांस से रवाना हुए 5 राफेल विमान, कल पहुंचेंगे भारत, जाने राफेल की खासियत

नई दिल्ली (ईएमएस)। फ्रांसीसी लड़ाकू विमान राफेल जेट की प्रतीक्षा अब खत्म हुई। फ्रांस से सोमवार को 5 राफेल लड़ाकू विमानों का...

बोकारो: गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड के पुराने रिकॉर्ड को तोड़कर नया कीर्तिमान स्थापित करने की योजना

बोकारो जिला प्रशासन  5 सितंबर को लगाएगा ब्लड डोनेशन कैम्प जिले में कुल 120 कैम्प का आयोजनबोकारो : बोकारो जिला प्रशासन...

श्री श्री सूर्यदेव सिंह स्मृति गुरुकुलम के छात्रों ने लहराया परचम।

धनबाद।सीबीएसई 12 का परिणाम सोमवार को घोषित हुआ। श्री श्री सूर्यदेव सिंह स्मृति गुरुकुलम, धनबाद के छात्रों ने अपना परचम लहराया। विद्यालय...

बुकर पुरस्कार की सूची में भारतवंशी लेखिका अवनि दोशी का नाम

लंदन (एजेंसी)। भारत के लिए गौरव की बात है कि दुबई में रहने वाली भारतवंशी लेखिका अवनि दोशी समेत 13 लेखकों के...

मुकेश अंबानी बने अब दुनिया के छठे सबसे अमीर इंसान

रिलायंस के शेयरों में 3 फीसदी उछाल का मिला फायदा नई दिल्ली(एजेंसी)। रिलायंस के शेयरों में 3 फीसदी का...

हाल का