17.9 C
Ranchi
Wednesday, March 3, 2021
Home जीवन शैली बच्चों के लिए जरूरी इंटरनेट सुरक्षा टिप्स

बच्चों के लिए जरूरी इंटरनेट सुरक्षा टिप्स

कोरोना महमारी के इस दौर में स्कूलों की पढ़ाई भी इंटरनेट के जरिये हो रही है। ऐसे में इंटरनेट एक जरूरत बन गया है। वहीं इंटरनेट पर उपलब्ध कुछ जानकारियां बच्चों के विकास और व्यवहार पर बुरा प्रभाव डाल रही हैं। ऐसे में उन्हें इंटरनेट का सही इस्तेमाल करना सिखायें।

- Advertisement -

अभिभावक भी लें ट्रेनिंग
सिर्फ बच्चे ही नहीं, अभिभावकों को भी इससे बचने के उपाय सीखने होंगे क्योंकि बच्चे वो गीला घड़ा होते हैं जिन्हें जिस आकार में चाहो ढाल लो। इंटरनेट बच्चों के विकास में मदद तो करता है लेकिन इसको उपयोग करते वक्त कुछ चीजें ध्यान में रखनी चाहिए।

अभिभावक बच्चों के साथ ऐसा व्यवहार रखें जिससे उन्हें ऐसा ना लगे कि वो उनकी जासूसी कर रहे हैं और बच्चों की निगरानी भी हो जाए। इसके लिए अभिभावकों को कोशिश करनी होगी कि वो हर दिन अपने बच्चे से बात करें कि आज उसने इंटरनेट पर क्या सीखा? बच्चों को बताएं कि इंटरनेट सिर्फ मनोरंजन का जरिया नहीं है ये ज्ञान का भंडार भी है।

वेब हिस्ट्री देखें
बच्चे इंटरनेट पर कितना वक्त बिताते हैं और बच्चे ऑनलाइन जो वक्त बिता रहे हैं वो कहीं उनके द्वारा तय किए गए वक्त से ज्यादा तो नहीं।इसके अलावा बच्चों की वेब हिस्ट्री को भी हर दिन जांचें कि कहीं वो जाने-अनजाने में उन साइट्स पर तो नहीं चले जा रहे जो उनके लिए नहीं हैं। ऐसा करने से आप उन साइट्स पर रोक भी लगा सकते हैं।

इजाजत लेने की आदत डालें
कई बच्चे कभी भी किसी चीज को करने से पहले उससे होने वाले परिणाम के बारे में नहीं सोचते और यही वजह है कि आजकल बच्चे आसानी से ऑनलाइन खुद से जुड़ी कई सारी चीजें शेयर कर देते हैं। इससे बचने के लिए उनमें शुरुआत से अनुमति लेने की आदत सिखाएं ताकि बच्चे आपसे बिना पूछे कुछ भी इंटरनेट पर साझा ना करें।
बच्चों को बताएं कि बाद में माफी मांगने से अच्छा पहले ही जागरुक रहें

पैरेंटिग कंट्रोल का उपयोग
पैरेंटिंग कंट्रोल ऑपरेटिंग सिस्टम का एक अंग है। इसे थर्ड पार्टी टूल भी कहते हैं। इसके उपयोग से अभिभावक बच्चों की ऑनलाइन गतिविधियों पर नजर रख सकते हैं। आप देख सकते हैं कि बच्चा इंटरनेट पर क्या कर रहा है।

इंटरनेट की जानकारी
आपका बच्चा किस एप्लीकेशन का इस्तेमाल कर रहा है इसके बारे में जानकारी रखना बहुत जरूरी है। अगर आपको इसकी जानकारी नहीं है तो खुद रिसर्च करिए कि वो एप्लीकेशन बच्चों के लिए सही है या नहीं।

बच्चों के साथ इंटरनेट पर जुड़ें
एक शोध के मुताबिक, 83 फीसदी अभिभावक अपने बच्चों के साथ फेसबुक पर जुड़े होते हैं लेकिन इसका मतलब ये नहीं कि आप बच्चों की निजता का हनन करें। ये सिर्फ इसलिए होता है ताकि आप उनके द्वारा किए गए पोस्ट, फोटो और उनके ऑनलाइन दोस्तों पर नजर रख सकें।

- Advertisment -

सबसे लोकप्रिय

भारत में साढ़े दस लाख से ऊपर कोरोना संक्रमित मरीज, महाराष्ट्र में तीन लाख के पार

नई दिल्ली (एजेंसी)। शनिवार को देश में कोरोना संक्रमण के 34,518नए मामले सामने आने के साथ पीड़ितों की संख्या बढ़कर 10,74,975 हो...

उमा शंकर सिंह ने धनबाद के 50वें उपायुक्त के रूप में किया पदभार ग्रहण

धनबद। आईएएस उमा शंकर सिंह ने आज संध्या धनबाद के 50वें उपायुक्त के रूप में पदभार ग्रहण किया। उन्होंने उपायुक्त के आवासीय...

पाक में कृष्ण मंदिर बनाने पर लगी रोक

इस्लामाबाद (ईएमएस)। पाकिस्तान की इमरान खान सरकार ने मुस्लिम कट्टरपंथियों के फतवे के आगे घुटने टेकते हुए इस्लामाबाद में बनने जा रहे...

कोरोना संकट की वजह से विंबलडन रद्द

620 खिलाड़ियों में बांटे जाएंगे 1.25 करोड़ डॉलर विंबलडन (एजेंसी)। कोरोना वायरस महामारी के कारण रद्द होने के बावजूद...

इस बार जलाशयों में छठ व्रत की इजाजत नहीं, प्रशासन ने जारी की गाइडलाइन

बोकारो ः दीपावली के बाद छठ की तैयारी पूरे जोर-शोर से की जा रही है। कोरोना काल में आस्था के इस महापर्व को लेकर...

रिया को मिल रही रेप और मर्डर की धमकी

मुंबई (एजेंसी)। रिया चक्रवर्ती को सोशल मीडिया पर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद उन्हें तरह-तरह की धमकियां और गालियां मिल...

हाल का